Geeta Jayanti 2021 भगवान श्रीकृष्ण ने गीता के उपदेश में दिए थे अर्जुन को धर्म और कर्म का ज्ञान » Matter Catchers

Geeta Jayanti 2021 भगवान श्रीकृष्ण ने गीता के उपदेश में दिए थे अर्जुन को धर्म और कर्म का ज्ञान

Geeta Jayanti 2021 Date Time and Significance And Geeta Ke Updesh आज गीता जयंती है । हिंदू धर्म में इस दिन का विशेष महत्व होता है, गीता में समस्त जीवन का सार है । हिंदू पंचांग के अनुसार अगहन (मार्गशीर्ष) माह के शुक्ल पक्ष की मोक्षदा एकादशी की तिथि पर गीता जयंती का त्योहार मनाया जाता है । मोक्षदा एकादशी तिथि पर भगवान श्रीकृष्ण ने अर्जुन को गीता का उपदेश दिया था । भगवान श्रीकृष्ण ने अर्जुन को धर्म और कर्म को समझाते हुए उपदेश दिया था । महाभारत के युद्ध में भगवान श्रीकृष्ण के द्वारा जो उपदेश दिया था उसे गीता कहा जाता है । गीता के उपदेश (Geeta Ke Updesh) में जीवन जीने, धर्म का अनुसरण करने और कर्म के महत्व को समझाया गया है ।
.गीता जयंती (Geeta Jayanti 2021) के दिन गीता के उपदेशों को पढ़ना, सुनना और बताए गए मार्ग पर चलना बहुत ही शुभ माना जाता है । गीता के कुल 18 अध्याय और 700 श्लोक हैं । गीता ही ऐसा ग्रंथ है जिसका प्रतिवर्ष जयंती मनाई जाती है । गीता को श्रीमदभगवत गीता और गीतोपनिषद के नाम से जाना जाता है । गीता के उपदेशों को आत्मसात और अनुसरण करने पर समस्त कठिनाईयों और शंकाओं का निवारण होता है । गीता (Geeta) के अध्ययन से जीवन में सफलता प्राप्ति की जा सकती है । गीता के उपदेशों पर चलने से व्यक्ति को कठिन से कठिन परिस्थितियों में सही निर्णय लेने की क्षमता का विकास होता है । गीता के उपदेश में जीवन को जीने की कला, प्रबंधन और कर्म सब कुछ है । गीता जयंती के अवसर पर आइए जानते हैं गीता के कुछ उपदेश.

Leave a Reply